sukhdev-singh-gogamedi-murder-news-2023-2sukhdev-singh-gogamedi-murder-news-2023-2

सुखदेव सिंह गोगामेडी की हत्या को लेकर पुलिस ने किया खुलासा हत्या में कई बड़े नेता शामिल ?

sukhdev-singh-gogamedi-murder-news-2023-2
sukhdev-singh-gogamedi-murder-news-2023-2

Sukhdev Singh Gogamedi Murder Case: राष्ट्रीय करणी सेना के प्रमुख सुखदेव सिंह गोगामेड़ी की हत्या को लेकर पुलिस ने किया खुलासा, सुखदेव सिंह की हत्या में दो शूटर शामिल हैं। पुलिस ने दोनों शूटरों को गिरफ्तार कर लिया गया, यह दोनों शूटर क्राइम की दुनिया में उभरते हुए दो बदमाश हैं।

यह दोनों शूटर लॉरेंस बिश्नोई की गैंग से जुड़े हुए हैं। सुखदेव सिंह की हत्या की सुपारी संपत नेहरा ने दी थी, राकेश गोदारा को।
यह दोनों शूटर राकेश गोदारा के लिए काम करते हैं, और इन दोनों शूटरों ने क्राइम को इल्जाम दिया।

सुखदेव सिंह गोगामेड़ी की हत्या के लिए पूरी साजिश रची गई थी, मिलने के बहाने आए स्थानीय मकान पर करीब आधे घंटे तक बातचीत की बातचीत के दौरान बदमाशों ने सीधे सुखदेव सिंह गोगामेड़ी के ऊपर गोलियां बरसाने लगे , सिर पर और पेट में गोली लगने से इलाज के दौरान उनका निधन हो गया।

सुखदेव सिंह गोगामेडी की हत्या क्यों की गई ?

राजस्थान की राजधानी जयपुर में सुखदेव सिंह गोगामेड़ी के हत्या सभी को चौंका दिया है। सुखदेव सिंह की हत्या संपत नेहरा ने करवाई थी। संपत नेहरा और सुखदेव सिंह के बीच पहले भी झगड़ा होता रहता था।

लेकिन इस बार संपत नेहरा ने सुखदेव सिंह की हत्या करवा दी, हत्या करने वाले दो शूटर जिनका नाम है रोहित राठौर और नितिन फौजी, इन दोनों शूटरों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया गया।Sukhdev Singh Gogamedi Murder Case बताया जा रहा है कि रोहित राठौर को राजस्थान में उनके गांव से अरेस्ट कर लिया और नितिन फौजी को हरियाणा के महेंद्रगढ़ से गिरफ्तार कर लिया गया।

यह गैंगस्टर राकेश गोदारा के लिए काम करते थे. इन पूरी घटना को बदमाश राकेश गोदारा के इशारे पर सुखदेव सिंह की हत्या की थी।

बताया जा रहा है कि सुखदेव सिंह गोगामेड़ी हत्या लॉरेंस बिश्नोई ने करवाई थी लॉरेंस बिश्नोई के कार्य में बांधा बन रहा था सुखदेव सिंह, इसलिए उनकी हत्या करवा दी गई।

राजस्थान पुलिस ने कॉपी मेहनत के बाद दोनों बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया गया. और दूसरी और करणी सेना ने मांग रखी कि जब तक हथियारों को फांसी नहीं दी जाए तब तक हम धरने प्रदर्शन से नहीं हटेंगे। सुखदेव सिंह गोगामेड़ी ने सरकार से पहले भी कई बार सिक्योरिटी की मांग की थी लेकिन कांग्रेस सरकार ने उन्हें कोई सिक्योरिटी नहीं दी करणी सेना ने कांग्रेस सरकार ऊपर निशान साध रही है।

सुखदेव सिंह गोगामेडी की हत्या को लेकर पुलिस ने क्या बताया

जयपुर के श्याम नगर इलाके में सुखदेव सिंह गोगामेडी की उनके निवास स्थान पर हत्या कर दी गई। दो गोली लगने के कारण उनका निधन हो गया, हत्या की घटना होने के बाद में मौके पर पुलिस पहुंची साथ में उनकी FSL टीम भी पहुंची और सबूत जुटाना में लग गई।

जयपुर के पुलिस कमिश्नर बीजू जार्ज जोसेफ ने इस पूरी घटना की जानकारी दी थी उन्होंने मीडिया को बताया गया कि सुखदेव सिंह गोगामेडी से मिलने के लिए तीन लोग आए थे, उनके निवास स्थान पर और उनको अनुमति मिलते ही उनसे मिलने के लिए उनके हाल में चले गए । करीब 10 मिनट तक दोनों के बीच में बातचीत चलती रही।

Sukhdev Singh Gogamedi Murder News 2023

कमिश्नर ने बताया कि 10 मिनट तक बातचीत खत्म होने के बाद बदमाशों ने फायरिंग करना शुरू कर दिया। फायरिंग दोनों तरफ से की गई , बदमाशों ने सुखदेव सिंह पर काफी गोलीबारी की और सुखदेव सिंह के बॉडीगार्ड ने भी फायरिंग करना शुरू किया जिसमें एक बदमाश की मौत हो गए। Sukhdev Singh Gogamedi Murder Case और बताया जा रहा है कि फायरिंग के दौरान बदमाश की मौत हुई है वह शाहपुरा के रहने वाले हैं उनके जयपुर में कपड़े की दुकान है।

पुलिस का कहना है कि बदमाशों को सीसीटीवी के आधार पर गिरफ्तार कर लिया गया। पुलिस का कहना है कि उनके पीछे कौन है क्या है उनकी पूरी प्लानिंग यह सभी षड्यंत्र का पता कर रहे हैं।

सुखदेव सिंह गोगामेड़ी कौन थे

राजपूत समाज के आक्रामक नेता जिनकी पहचान पंजाब से लगाकर राजस्थान में वह राजपूत नेता के तौर पर जाने जाते थे।

सुखदेव सिंह ने फिल्म पद्मावत के विरोध में काफी तोड़फोड़ भी की थी जी बीच में वे सुर्खियां में आए। और बताया जा रहा है कि फिल्म पद्मावत की शूटिंग के दौरान सूट पर काफी तोड़फोड़ की थी और फिल्म के प्रति विरोध प्रदर्शन भी किया था. सुखदेव सिंह ने फिल्म में शामिल आपत्तिजनक सीन के लिए विरोध किया था।

और क्या जा रहा है कि सुखदेव सिंह ने फिल्म पद्मावत के डायरेक्टर संजय लीला भंसाली को उनके सेट पर थप्पड़ भी मारा था जिसके दौरान यह दुनिया भर में काफी सुर्खियां में आए थे।

सुखदेव सिंह ने राजपूत समाज के संगठन करणी सेना में काफी समय से काम कर रहे थे. लेकिन लोकेंद्र सिंह कवि के साथ कुछ मतभेद होने के कारण उन्होंने अलग से करणी सेना संगठन बनाया।

By HARDEV

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *